ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
टेस्टिंग प्रक्रिया को तेज करना होगा -योगी आदित्यनाथ
April 17, 2020 • Anil Mathur • STATE

लखनऊ : 17 अप्रैल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने कहा है कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी की लड़ाई में टेस्टिंग लैब्स की महत्वपूर्ण भूमिका है।

उन्होंने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा उचित समय पर लिए गए निर्णयों एवं उठाए गए कदमों से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में काफी मदद मिली है। लॉक डाउन के माध्यम से भी इसे नियंत्रित करने में सफलता मिली है। इन सभी प्रयासों से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोका जा सकेगा।

मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर प्रदेश में कोविड लैब टेस्टिंग के सन्दर्भ में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न संस्थानों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि 23 मार्च, 2020 को प्रदेश में टेस्टिंग की संख्या 72 थी, जो आज बढ़कर लगभग 3000 हो चुकी हैउन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश जैसे बड़ी आबादी वाले प्रदेश के दृष्टिगत इस टेस्टिंग की क्षमता को तेजी के साथ बढ़ाना होगाउन्होंने कहा कि के0जी0एम0यू0 में पूल टेस्टिंग का कार्य प्रारम्भ हो चुका है। यह उत्साहवर्धक है ।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण पर नियंत्रण पाने के लिए टेस्टिंग की चुनौती को स्वीकार करते हुए टेस्टिंग प्रक्रिया को तेज करना होगा। साथ ही, मेडिकल इंफेक्शन को भी रोकना होगा। इसके लिए सभी सावधानियां बरती जाएं ।

उन्होंने कहा कि सभी 18 मण्डलों के 24 राजकीय मेडिकल कॉलेजों में एक-एक वायरोलॉजी लैब स्थापित किए जाने की दिशा में कार्यवाही की जाए । इसके लिए धनराशि की कोई कमी नहीं है।

उन्होंने कहा कि 14 संस्थानों में टेस्टिंग की जा रही है। जिन मण्डलों में राजकीय मेडिकल कॉलेज नहीं हैं, वहां पर भी टेस्टिंग लैब स्थापित किए जाने के प्रयास किए जाएंउन्होंने कहा कि भविष्य के दृष्टिगत कोविङ-19 तथा अन्य वायरस से लड़ाई में पूरी तैयारी के साथ जुटना होगा।  संक्रमण पर नियंत्रण के सन्दर्भ में लापरवाही को रोका जाना तथा जागरूकता को बढ़ाना आवश्यक है ।