ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
राजस्थान इनोवेशन एण्ड स्टार्टअप एक्सपो-2019
December 19, 2019 • Yogita Mathur • BUSINESS
जयपुर, 19 दिसम्बर। प्रदेश में सरकार के सफलतम एक वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में गुरूवार को एमएनआईटी, जयपुर में आयोजित किये गए एक दिवसीय राजस्थान इनोवेशन एण्ड स्टार्टअप एक्सपो में 200 से भी अधिक स्टार्टअप्स ने हिस्सा लिया।
 
प्रदेश के स्टार्टअप्स को बढ़वा देने और युवाओं में स्वरोजगार तथा उद्यमिता को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से आयोजित इस एक्सपो में न केवल नए स्टार्टअप्स ने हिस्सा लिया बल्कि विभिन्न तकनीकी कॉलेजों और महाविद्यालयों के छात्र- छात्राओं ने भी अपने इनोवेशन्स को प्रदर्शित किया। एक्सपो में प्रदेश के 140 से अधिक स्टार्टअप्स ने अपने तकनीकी इनोवेशन्स को प्रेजेन्ट किया जिनमें 20 से अधिक शिक्षण संस्थान शामिल थे।
 
एक्स्पो में स्टार्टअप्स ने रोबोटिक्स, मेडिकल केयर, फूड प्रोसेसिंग, फूड डिलीवरी, एग्रीकल्चर, ट्रेवल्स एण्ड टूरिज्म, सर्विस डिलीवरी, शिक्षा आदि से जुड़े इनोवेशन्स प्रदर्शित किये जो लोगों के जीवन को और आसान बना सकते हैं। इस कार्यक्रम में अटल इन्क्यूबेटर सेंटर की भी भागीदारी रही।
 
एक्स्पो में विजिट करने वाले स्कूल व कॉलेजों के विद्यार्थियों के लिए भी यह एक अनूठा अनुभव था। उन्हें यहां आकर ना केवल प्रौद्योगिकी और नवाचार के समावेश की बारीकियां समझने का मौका मिला बल्कि अपने भविष्य के लिए उद्यमिता के क्षेत्र के नए आयामों को भी जानने का मौका मिला। प्रदेश के स्थापित स्टार्टअप्स और उद्यमियों ने भी यहां आकर स्टार्टअप्स और इनोवेटर्स को प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर केन्द्र सरकार के स्टार्टअप इण्डिया द्वारा वर्कशॉप का आयोजन भी किया गया।  
 
कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण मेडिकल हैल्थ मशीन कियोस्क, रूबी रोबोट, रेयर जेनेटिक डिजीज के निदान के लिए जीनोमिक टेस्ट, बोलने तथा सुनने में अक्षम दिव्यांगजन के लिए वॉच तथा ग्लव्स जो पर्सनल इंटरप्रेटर का काम करते हैं तथा ऎयरोप्लेन मॉडल आदि रहे। इसके अतिरिक्त मंदिरों पर चढ़ने वाले फूलों को इकट्ठा कर अगरबत्ती बनाना तथा इसके द्वारा महिलाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाना, किसानों को फसल के स्टोरेज के लिए गोदाम उपलब्ध कराना, घर बैठे किसी भी शहर में ऑफर्स के साथ सैलून की उपलब्धता के बारे में जानकारी देना, ग्रामीण टूरिज्म, एप्प और व्यक्तिगत कन्सलटेन्सी के माध्यम से किसानों को सीधे बाजार से जोड़ने के साथ उन्हें उचित दर पर खाद बीज की उपलब्धता की जानकारी देना तथा कृषि वैज्ञानिकों से परामर्श दिलवाना, ग्राहकों को ऑर्गेनिकृषि उत्पाद घर बैठे उपलब्ध कराना, विभिन्न इलेक्ट्रोनिक उपकरणों की सर्विस के लिए तकनीशियन उपलब्ध कराना जैसे स्टार्टअप्स को लोगों ने खूब सराहा।