ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
राजभवन ने सरकार से पूछे कारण 
July 29, 2020 • Anil Mathur • RAJASTHAN

जयपुर,29 जुलाई । राजस्थान में चल रहे सियासी घमासान के बीच विधान सभा का विशेष सत्र को आहूत करने को लेकर राजभवन ने सरकार के प्रस्ताव को एक बार फिर नामंजूर कर दिया है ।
 राज्यपाल कलराज मिश्र ने सरकार के उस प्रस्ताव को फिर से लौटा दिया है जिसमें विधान सभा का विशेष सत्र आहूत करने का अनुरोध किया था ।
  विधान सभा अध्यक्ष डा सी पी जोशी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अलग अलग समय राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र से मुलाकात की । डा जोशी की भेट को राज्यपाल के जन्मदिन की बधाई देना जबकि मुख्यमंत्री की भेट को शिष्ट्राचार बतायी गयी है । लेकिन सब को जानकारी है कि डा सी पी जोशी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राज्यपाल से क्यों भेट की है ।
  राज्यपाल ने केबिनेट के प्रस्ताव को फिर से लौटाते हुए जानना चाहा है कि  सामान्य नियम से हटकर यदि विधानसभा सत्र बुलाने का निर्णय लिया है, तो वह निर्णय किन विकट एवं विषम परिस्थितियों में लिया गया है एवं साथ ही प्रजातान्त्रिक मूल्यों की पालना आवष्यक है। 
 राज्यपाल ने पत्रावली को पुनः पे्रषित कर यह निर्देषित किया गया है कि अल्प अवधि के नोटिस सत्र आहूत करने का क्या ठोस कारण है, इसे स्पष्ट किया जाय तथा यह भी स्पष्ट किया जाए कि वर्तमान असामान्य एवं विषम परिस्थिति में अल्प अवधि के नोटिस पर सत्र क्यों बुलाया जा रहा है। 
 अब सबकी नजरे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर है । राज्य सरकार विधान सभा का विशेष सत्र बुलाने को लेकर अगला कदम क्या उठाती है । हालाकि मुख्यमंत्री विधान सभा का विशेष सत्र बुलाने को लेकर राष्ट्रपति से भेट करने का पहले ही संकेत दे चुके है ।