ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
मुख्यमंत्री की ओर से अजमेर दरगाह में चादर पेश
February 29, 2020 • Yogita Mathur • DHARMA KARMA
 
अजमेर 29 फरवरी। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की ओर से महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती के 808वें उर्स के अवसर पर अजमेर दरगाह में उनके आस्ताने पर शनिवार को चादर पेश की गई।
 
राजस्थान बोर्ड ऑफ मुस्लिम वक्फस के अध्यक्ष डॉ. खानू खान बुधवाली ने दरगाह के खादिम  वाहिद अली अंगारा के माध्यम से आस्ताने पर चादर पेश की ।
 
उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का संदेश पढ़ा। मुख्यमंत्री  गहलोत ने अपने संदेश में कहा कि राजस्थान की सरजमी सूफी संतों और औलियाओं से हमेशा फैजयाब रही है। हजरत ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती रहमतुल्लाह अलैह खलीफा-ए-सानी सूफीवाद के बड़े वली है। जिनकी जिंदगी खिदमते-खल्क में गुजरी। इसीलिए सभी मजहबों के लोग अपनी मुरादें लेकर ख्वाजा गरीब नवाब के आस्ताने पर हाजिर होते हैं।
 
मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि उर्स के मुबारक मौके पर तशरीफ लाने वाले तमाम जायरीन ख्वाजा साहब की तालीमात के साथ अमन, चैन, खुशहाली और भाईचारे का संदेश लेकर जायेंगे। मुख्यमंत्री ने उर्स की मुबारकबाद के साथ हजरत के आस्ताना - ए-औलिया के आस्ताने पर खिराजे अकीदत पेश करते हुए मुल्क और सूबू में अमन-चैन, खुशहाली की दुआ मांगी।