ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
क्या है :जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल
December 23, 2019 • Yogita Mathur • BOLLYWOOD

 जयपुर, 23 दिसम्बर । 'दुनिया के सबसे बड़े साहित्यिक प्रोग्राम' के नाम से मशहूर जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल, 23 से 27 जनवरी 2020 को अपने 13वें संस्करण के लिए तैयार है| पांच दिन के इस साहित्यिक उत्सव में देश और दुनिया की श्रेष्ठ प्रतिभाएं, ऐतिहासिक डिग्गी पैलेस में जुटेंगी|

पिछले एक दशक में, जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2000 से अधिक वक्ताओं की मेजबानी कर चुका है, जिनमें साहित्य के वैश्विक सितारे शामिल हैं| इसके साथ ही फेस्टिवल ने लगभग दस लाख से अधिक श्रोताओं का भी स्वागत किया है| पांच दिनों के लिए यह गुलाबी नगरी साहित्य और कला के रंग में रंग जाती है| फेस्टिवल के दौरान, आप बेहतरीन सत्रों को सुनने के साथ ही और भी बहुत सी मजेदार अनुभव ले सकते हैं, जिनमें फेस्टिवल का बुकस्टोर, फ़ूड स्टाल और फेस्टिवल बाज़ार भी शामिल है|

यहाँ हमने कुछ ऐसी वजहों की लिस्ट बनाई है, जिनके लिए आपको फेस्टिवल के इस 13वें संस्करण में जरूर से जरूर जाना चाहिए|

  • दुनिया की श्रेष्ठ प्रतिभाओं को सुनने के लिए

जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल दुनिया की श्रेष्ठ प्रतिभाओं की मेजबानी करते हुए, उन्हें भिन्न सत्रों के माध्यम से चर्चा और परिचर्चा के लिए एकत्रित करता है| साहित्य, अर्थव्यवस्था, पर्यावरण, खाद्य और विज्ञान जैसे क्षेत्रों से आये विशेषज्ञ मंच पर अपनी बात रखेंगे| प्रतिष्ठित वक्ता जैसे 2010 में मैन बुकर प्राइज से सम्मानित होवार्ड जैकबसन, पुलित्ज़र प्राप्त लेखक स्टीफन ग्रीनब्लाट और डेक्सटर फिल्किंस, जानी-मानी खाद्य विशेषज्ञ मधुर जाफरी और प्रसिद्ध लेखिका एलिजाबेथ गिल्बर्ट के साथ ही प्रमुख भारतीय फ़िल्मकार विशाल भारद्वाज इत्यादि 2020 संस्करण में भाग लेने वाले वक्ता हैं| तो जिंदगी बदल देने वाले इन प्रेरक सत्रों का हिस्सा बनिए!

 

  • अपने पसंदीदा लेखकों से मिलने और किताब पर ऑटोग्राफ लेने के लिए

वो सभी साहित्यिक प्रेमी, जो दिन-रत किताबों से चिपके रहते हैं और पन्ना-दर-पन्ना रोचक कहानी में उतर जाते हैं, उनके लिए जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल ऐसा ख़ास अवसर लेकर आता है, जहां वो व्यक्तिगत रूप से अपने पसंदीदा लेखक से मिलकर, उनकी किताब खरीदकर, वहीं उनके ऑटोग्राफ ले सकते हैं| उल्लेखनीय सत्रों और बुक-लांच के साथ ही फेस्टिवल ने स्पेशल बुक-साइनिंग कीओस्क का भी प्रबंध किया है| ये कोना ख़ासरूप से लेखकों और उनके पाठकों के लिए संरक्षित होगा|

 

  • कला, संस्कृति –यादों की गली!

साहित्य और किताबों के लिए मंच उपलब्ध कराने के साथ ही, यह फेस्टिवल श्रोताओं के लिए कला और संगीत से जुड़े विविध अनुभवों को भी लेकर आता है| कला की ख़ूबसूरती के साथ ही इन्स्टाग्राम शॉट के लिए जबरदस्त बैकग्राउंड – यहाँ हरेक के लिए कुछ ख़ास है| नृत्य और संगीत की प्रस्तुति फेस्टिवल को और भी जिंदादिल बना देती है| शॉपिंग के दीवानों के लिए फेस्टिवल बाज़ार बिलकुल न छोड़ने वाली जगह है, जहाँ शिल्प, डिजाइनर और कारीगरों की संग्रह करने वाली चीजें हैं| वहां आकर्षक शाल के साथ ही, मीनाकारी की हुई ज्वेलरी, फंकी स्टेशनरी, दिल लुभा लेने वाली एक्सेसरीज, पैरों को और सुन्दर बनाती जूतियाँ और घर सजाने का भी सुन्दर सामान है|

 

  • सुबह का संगीत

जिनकी दिलचस्पी संगीत में है, उनके लिए फेस्टिवल के हर दिन की शुरुआत सुबह के ताजगी देने वाले संगीत से होगी| सुबह के संगीत में जाने-माने कलाकार अपनी प्रस्तुति से फेस्टिवल की शुभ-शुरुआत करेंगे, जिनमें शामिल हैं: मृन्दंगम वादक बीसी मंजुनाथ; राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित, सितारवादक पुरबायन चटर्जी; प्रमुख कर्नाटिक वीणा-वादक सरस्वती राजगोपालन और लोकप्रिय कर्नाटिक गायिका व 'मानसमित्र' की संस्थापक सुप्रिया नागराजन|  

 

  • हेरिटेज इवनिंग

फेस्टिवल जयपुर के ऐतिहासिक स्थल पर एक पॉवर-पैक्ड शाम का भी आयोजन करेगा| राजस्थान पर्यटन के सहयोग से, इस खूबसूरत शाम का आयोजन आमेर फोर्ट की मोहक पृष्ठभूमि में किया जायेगा, जहाँ जयपुर कत्थक घराना के प्रमुख कलाकार पंडित राजेन्द्र गंगानी अपनी प्रस्तुति देंगे| कत्थक नर्तकों के समूह के साथ वह इस प्राचीन शास्त्रीय नृत्य को सम्मान देंगे| ओलिवर कोम्टे द्वारा बनाया गया ग्रुप 'द व्हिस्पर' खोखले बेंत के माध्यम से एक अनोखी प्रस्तुति देंगे| यह कान में फुसफुसाहट जैसी धुन होगी| इस शानदार शाम का समापन, दुनिया के जाने-माने सितारवादक शुभेन्द्र राव 'ईस्ट मैरी वेस्ट-ए लिगेसी' के माध्यम से करेंगे| यह उनके गुरु, सितारवादक पंडित रवि शंकर की 100वीं वर्षगांठ पर उनकी श्रृद्धांजली है| शुभेन्द्र का साथ निभाएंगी, उनकी पत्नी सस्किया राव-डे हास|

 

  • जयपुर बुकमार्क में iWrite

उन सभी महत्वाकांक्षी लेखकों और कवियों के लिए, जो अपनी डायरियों में छुप-छुपकर लिखते रहते हैं| जयपुर बुकमार्क उनके लिए अपने शब्दों को दुनिया तक पहुंचाने का मौका लेकर आया है| iWrite के माध्यम से वो अपनी एंट्री भेज सकते हैं और चुनिन्दा एंट्री को जयपुर बुकमार्क में अंतर्राष्ट्रीय प्रकाशकों, साहित्यिक एजेंट्स, अनुवादकों द्वारा मार्गदर्शन का अवसर प्राप्त होगा| किसी लकी एंट्री को बुक-डील साइन का मौका भी यहां मिल सकता है|

 

  • ब्लॉगिंग कॉम्पिटिशन

अगर आपकी कलम में धार है, तो जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 2020 आपके लिए ब्लॉगिंग कॉम्पिटिशन लेकर आया है| अपने लेखन के माध्यम से आप फेस्टिवल के मकसद और कलाकारों के प्रोत्साहन के जरिये जयपुर के श्रोताओं को अपने लेखन से प्रभावित कर सकते हैं| चुने हुए दस ब्लॉगर को फेस्टिवल की ऑफिसियल ब्लॉग साईट पर छपने का अवसर प्राप्त होगा| विजेताओं को 23 से 27 जनवरी 2020 को फेस्टिवल में भी आमंत्रित किया जायेगा|  

 

  • डेलिगेट एक्सपीरियंस

यद्यपि फेस्टिवल सबके लिए खुला है, लेकिन खासतौर पर तैयार किये गए डेलिगेट पैकेज आपके फेस्टिवल के अनुभव को और भी बेहतरीन बना देते हैं| इसके तहत आपको डेलिगेट-ओनली सेशन, डेलिगेट लाउन्ज में रेस्ट और स्नैक व ड्रिंक का लुत्फ़, नेटवर्किंग कॉकटेल, वक्ताओं के साथ लंच और फेस्टिवल के हेरिटेज इवेंट और साथ ही घर ले जाने के लिए फेस्टिवल का टोटे बैग भी| इन डेलिगेट पैकेज की कीमत शुरू होती है, 6,300/- रुपये प्रतिदिन से 23,800/- रुपये पूरे पांच दिन|