ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
कोविड-19 -पुलिसकर्मियों को सेनिटाइजर
April 3, 2020 • Yogita Mathur • NATIONAL

नई दिल्ली New Delhi , 3 अप्रेल । बाजार में हैंड सेनिटाइजर के अभाव पर गौर करते हुए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी), भारत सरकार के एक स्‍वायत्‍त आर एंड डी सेंटर इंटरनेशनल एडवांस्‍ड रिसर्च सेंटर फॉर पाउडर मेटलर्जी एंड न्‍यू मटेरियल्‍स (एआरसीआई), हैदराबाद ने डब्‍ल्‍यूएचओ मानकों के अनुसार हैंड सेनिटाइजर का निर्माण किया है और उन्‍हें हैदराबाद के पुलिस कर्मियों, विद्या‍र्थियों, संस्‍था के कर्मचारियों  के बीच बंटवाया है।

वैज्ञानिकों, विद्या‍र्थियोंऔर कर्मचारियों की एक टीम स्‍वैच्‍छा से आगे आई और उसने लगभग 40 लीटर सेनिटाइजर का निर्माण किया।निर्माण, पैकेजिंग और वितरण का कार्य मात्र 6 घंटों में पूर्ण कर लिया गया। इस बीच, लॉकडाउन की घोषणा हो गई और अनेक छात्र अपने गृह नगरों की ओर रवाना होने लगे। यात्रा पर निकल रहे  अधिकतर छात्रों को उनकी सुरक्षा के लिए हैंड सेनिटाइजर की बोतल और फेस मास्‍क दिया गया।

सेनिटाइजर सुरक्षा कर्मियों,कैंटीन में काम करने वाले लोगों, वैज्ञानिकों के बीच भी बांटा गया और सामान्‍य क्षेत्रों और प्रवेश द्वारों पर भी रखवा दिया गया। टीम भावना, आपदा प्रबंधन में वितरण की इच्‍छा, एआरसीआई परिवार की परवाह और चिंता के कारण यह कार्य बहुत कम समय में संभव हो सका।

उसके पश्‍चात सामाजिक दूरी लागू करने की अ‍थक कोशिशों में जुटे पुलिस कर्मियों के जोखिम को देखते हुए एआरसीआई के निदेशक डॉ जी पद्मनाभन ने टीम को अधिक मात्रा मेंसेनिटाइजर बनाने का निर्देश दिया,ताकि उसे पुलिस कर्मियों के बीच बंटवाया जा सके। तदनुसार, पर्याप्‍त मात्रा में सेनिटाइजर तैयार किया गया और उसे एआरसीआई के वरिष्‍ठ वैज्ञानिक डॉ आर विजय द्वारा  श्री सनप्रीत सिंह, डीसीपी राचाकोंडा कमिशनरेट को सौंपा गया।

पुलिस उपायुक्‍त ने वैज्ञानिकों द्वारा प्रदान की गई इस सहायता की सराहना करते हुए सेनिटाइजर की और अधिक मात्रा उपलब्‍ध कराने का अनुरोध किया, ताकि उसे ज्‍यादा से ज्‍यादा कर्मियों के बीच बंटवाया जा सके। एआरसीआई ने सेनिटाइजर को बड़ी मात्रा का निर्माण करने के सभी प्रबंध कर लिये और उसे 100 एमएल की सुविधाजनक बोतलों में उपलब्‍ध कराया जा रहा है, ताकि पुलिसकर्मी उन्‍हें आसानी से अपनी जेब में रख सकें। प्रत्‍येक पुलिसकर्मी की एक बोतल एक सप्‍ताह से अधिक समय तक चलेगी।

डॉ. पद्मनाभन ने इस प्रयास में योगदान देने वाली टीम के सभी सदस्‍यों की सराहना की है और उन्‍हें तथा अन्‍य वैज्ञानिकों को कोविड-19 से निपटने के और विचारों के साथ आगे आने के लिए प्रोत्‍साहित किया है।

खतरनाक कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए यह सलाह दी गई है कि हाथों, सीढि़यों की रेलिंग्‍स, दरवाजों के हैंडलों, ‘आईआरआईएस’बायोमीट्रिक मशीन कीज़, सामान्‍य उपकरण, आधिकारिक वाहनों आदि को सेनिटाइजर्स के साथ साफ किया जाए।