ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
किसान महापंचायत ने  प्रधानमंत्री , मुख्यमंत्री को  चेतावनी दी ।
July 1, 2020 • Anil Mathur • RAJASTHAN

 

 

जयपुर, 1 जुलाई ।किसान महापंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामपाल जाट ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को चेतावनी दी है कि यदि सरकार ने किसानों से चने की दाने-दाने की खरीद शुरू नहीं करने पर दिल्ली कूच करने की चेतावनी दी है ।

रामपाल जाट ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि राजस्थान में कल तक चने की खरीद 5.99 लाख टन की खरीद हो गयी है अब मात्र 16 हजार टन की खरीद शेष है। जो एक से दो दिन में पूरी हो जाएगी  शेष चना किसानो को बाजार में न्यूनतम समर्थन मूल्य से कम दामों में बेचना पड़ेगा , जिससे उन्हें 1,000 से लेकर 1,200 रुपये प्रति क्विंटल तक का घाटा उठाना पड़ेगा । उन्होने कहा कि 1000 रुपये प्रति क्विंटल के अनुसार भी अनुमानित घाटा 2102 करोड़ रुपये होगा I कोविड-19 के अंतराल में यह घाटा किसानो पर कहर ढाएगाI

जाट ने भारत सरकार द्वारा बनाए गए नियमों के अनुसार भारत सरकार तो सम्पूर्ण खरीद कर सकती है लेकिन  उनके द्वारा बनाई गयी एजेंसी नेफेड कुल उत्पादन में से अधिकतम 25% ही खरीद कर सकती है उसके अनुसार ही राजस्थान में खरीद का लक्ष्य 6.15 लाख टन तय किया गया था जो कुल उत्पादन का 22.45% है I राजस्थान में नेफेड के आधार पर राजफेड चने की खरीद करती है ।
  राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इस वर्ष 783 केन्द्रों पर चने की खरीद की गयी I लक्ष्य के अनुसार चने की खरीद 3 दिनों के बाद कभी भी बंद हो सकती हैI इसके लिए भारत सरकार को प्रधानमंत्री अन्नदाता आय संरक्षण अभियान में से अधिकतम 25% खरीद के प्रतिबन्ध को समाप्त कर सम्पूर्ण खरीद के प्रावधान करने की आवश्यकता है, अन्यथा भारत सरकार स्वयं खरीद कर किसानो को होने वाले घाटे से बचाने का प्रयास करें ।