ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
चिकित्सकों एवं अन्यकर्मिकों को दोगुणा वेतन
April 9, 2020 • Yogita Mathur • STATE

चण्डीगढ़, 9 अप्रैल- हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने आज नॉवेल कोरोना वायरस के प्रकोप को कम करने के लिए कोविड-19 बीमारी के इलाज में लगे डाक्टरों, नर्सों, पैरामैडिक्स स्टाफ, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों, एंबूलेंस के स्टाफ और टेंस्टिंग लैब के स्टाफ के साथ-साथ देखभाल में लगे स्टाफ के कर्मियों को कोरोना पीरियड के दौरान दोगुणा वेतन देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने ये घोषणाएं आज यहां डाक्टरों, सिविल सर्जनों, विभिन्न चिकित्सा संस्थानों के पदाधिकारियों के साथ-साथ इंडियन मैडीकल एसोसिएशन के पदाधिकारियों से वीडियो कान्फे्रंसिंग के माध्यम से की।

एक्स-ग्रेशिया स्कीम का जिक्र करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में कार्यरत ऐसे सभी व्यक्ति, जो केन्द्र सरकार की घोषित स्कीम में पात्र नहीं होते हैं तो उन सभी को भी राज्य सरकार द्वारा कवर किया जाएगा जिसके तहत डाक्टरों को 50 लाख रूपए, नर्स को 30 लाख रूपए, पैरामैडिक्स को 20 लाख रूपए और चतुर्थ श्रेणी कर्मी को 10 लाख रूपए की एक्स-ग्रेशिया का लाभ दिया जाएगा।

गत दिनों  मनोहर लाल ने घोषणा की थी कि राज्य के निजी अस्पतालों में काम करने वाले डॉक्टरों, नर्सों, पैरामेडिक्स और अन्य कर्मचारियों को भी सरकारी क्षेत्र में काम करने वालों की तर्ज पर उपलब्ध एक्सग्रेशिया मुआवजे का लाभ दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने डाक्टरों को आहवान करते हुए कहा कि इस महामारी के दौरान डाक्टर सेनापति के रूप में इस महामारी से लड रहा है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा, मैनेजमेंट, पैरामैडिक्स, टेस्ंिटंग लैब, एंबूलेंस के कार्य में लगे लोग भी अपनी और अपने परिवार की परवाह किए बिना समाज को अपना परिवार मानते हुए दिन-रात इस महामारी से संघर्ष कर रहे है।

उन्होंने इस महामारी से लड रहे सभी लोगों से आग्रह करते हुए कहा कि इस कठिनाई और संकट के समय में हम सभी को उत्साह व जोश के साथ कोविड-19 के प्रकोप को फेलने से रोकना हैं और एक टीम के रूप में काम करना है। उन्होंने कहा कि यदि हम सब मिलकर इस लडाई को लडेंगें तो अवश्य अपने उद्देश्य को प्राप्त कर लेंगें।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 महामारी से लडने के लिए जनता भी हर दृष्टि से अपना योगदान व सहयोग दे रही हैं, चाहे इनमें धार्मिक, सामाजिक संगठन हो, सभी का एक ही मत है और इसके अलावा, हजारों की संख्या में स्वयंसेवक भी गरीब व असहाय लोगों की मदद के लिए आगे आए हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा सरकार हर संभव कदम इस महामारी से निपटने के लिए उठा रही है और हमने सारी व्यवस्थाएं चाक-चैबंद कर रखी है।