ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
अब टिड्डियों की शामत
June 3, 2020 • Anil Mathur • RAJASTHAN


जयपुर, 3 जून। राजस्थान में अब टिड्डियों की शामत है । प्रदेश सरकार ने टिड्डियों पर काबू पाने के लिए सख्त उपाय किये है ।टिड्डियों को काबू में करने के लिए जल्द ही 100 अग्निशमन वाहनों की खरीद करेगी।
 राज्य आपदा राहत कोष (एसडीआरएफ) से खरीदे जाने वाले ये वाहन आपदा राहत के साथ ही टिड्डी नियंत्रण में भी उपयोगी होंगे। एसडीआरफ से जिला कलक्टरों को एक करोड़ 47 लाख रूपए उपलब्ध कराए गए हैं। जिनसे जिला कलक्टर स्थानीय स्तर पर ही टिड्डी नियंत्रण के लिए ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर सहित अन्य वाहनों एवं पानी के टैंकर किराए पर लेने तथा आवश्यक कीटनाशी का तत्काल प्रबंध कर सकें। 

मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत के निर्देश पर बुधवार को मुख्यमंत्री निवास से हुई वीडियो कांफ्रेंस में प्रदेश में टिड्डियों के नियंत्रण की समीक्षा की गई। वीडियो कांफ्रेंस में कृषि मंत्री  लालचन्द कटारिया एवं राजस्व मंत्री  हरीश चैधरी ने कहा कि टिड्डियों के नियंत्रण के लिए धन एवं संसाधनों की कोई कमी नहीं है। 
उन्होंने कहा कि अफ्रीकी देशों में बड़ी संख्या में टिड्डियों का प्रजनन हो रहा है। बड़ी संख्या में इन दलों के राजस्थान पहुंचने की आशंका है। ऐसे में हमें जिलावार रणनीति पर काम करना होगा। इस काम में टिड्डी चेतावनी संगठन एवं राज्य सरकार के प्रयासों के साथ ही स्थानीय किसानों का सहयोग भी लिया जाए। 

मुख्य सचिव  डीबी गुप्ता ने कहा कि जिला कलक्टरों को टिड्डी नियंत्रण के लिए आवश्यकतानुसार वित्तीय एवं मानवीय संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे हैं। कृषि विभाग दिन-रात टिड्डी चेतावनी संगठन के साथ मिलकर इस चुनौतीपूर्ण काम में जुटा हुआ है। कृषि विभाग के प्रमुख शासन  अब तक करीब 95 हजार हैक्टेयर क्षेत्र में टिड्डी नियंत्रण किया गया है। सीमावर्ती जिलों में टिड्डी दलों के आगमन की पुख्ता सूचना मिल सके, इसके लिए बीएसएफ से भी सहयोग लिया जा रहा है।