ALL NATIONAL WORLD RAJASTHAN POLITICS HEALTH BOLLYWOOD DHARMA KARMA SPORTS BUSINESS STATE
 नौजवान घटनाक्रमों पर बनाए रखें मौलिक नजरिया: मुख्यमंत्री
February 28, 2020 • Yogita Mathur • RAJASTHAN


जयपुर, 28 फरवरी। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने विद्यार्थियों एवं युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि उन पर देश के सामाजिक ताने-बाने और सामाजिक सौहार्द को बनाए रखने की बड़ी जिम्मेदारी है। 
उन्होंने कहा कि आपका व्यक्तित्व देश की पूंजी है और आने वाला कल आपका है। जाति-पांति, मजहब के भेद भुलाकर नौजवान देश के घटनाक्रमों पर अपना मौलिक नजरिया बनाए रखें, ताकि देश सही दिशा में आगे बढ़ सके।  
 गहलोत शुक्रवार को राजस्थान विश्वविद्यालय में केन्द्रीय छात्रसंघ कार्यालय के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सामाजिक सद्भाव के बिना किसी भी देश की अर्थव्यवस्था मजबूत नहीं हो सकती और मजबूत अर्थव्यवस्था के बिना कोई देश तरक्की नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि सामाजिक सौहार्द के बिगड़ने का विपरीत असर उद्योग-धंधों, निवेश और कारोबार पर पड़ता है। ऐसे में रोजगार के अवसर कैसे बढ़ सकते हैं। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि राजनीति सेवा का माध्यम है। यदि आप अच्छे सोशल वर्कर हैं तो आप एक अच्छे राजनेता हो सकते हैं। छात्र जीवन में सीखे गए अनुशासन, निर्णय लेने की क्षमता और नेतृत्व के गुण हमारे जीवन भर काम आते हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में छात्रसंघ चुनाव बंद हो गए थे। हमारी पिछली सरकार में ये चुनाव फिर शुरू हुए। मेरा मानना है कि छात्रसंघ चुनाव होते रहने चाहिएं। इससे युवाओं को सामाजिक क्षेत्र में काम करने का अवसर मिलता है। 

 गहलोत ने कहा कि छूआछूत मानवता पर बड़ा कलंक था। हमारे महान् नेताओं ने आरक्षण का प्रावधान कर इस भेद को मिटाने का प्रयास किया। राजस्थान विश्वविद्यालय के विद्यार्थी बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने संविधान की भावना के अनुरूप सभी बंधनों से ऊपर उठते हुए पिछड़े वर्ग से आने वाली छात्रा को अध्यक्ष चुना। यह महिला सशक्तीकरण और सामाजिक समानता का अच्छा उदाहरण है।  
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए लगातार फैसले ले रही है। पिछले बजट में हमने 50 नए काॅलेज खोलने की घोषणा की थी। हमारा प्रयास है कि राज्य के विश्वविद्यालयों में गुणवत्तापूवर्ण शिक्षा मिले और अधिक से अधिक रिसर्च हो। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार प्रदेश में राज्य स्तरीय खेलों का आयोजन किया गया। उन्होंने राजस्थान यूनिवर्सिटी बिजनेस इन्क्यूबेटर एंड क्लस्टर सोसायटी की पत्रिका का विमोचन किया।